Monday, December 9, 2019

Mahakal Bhakt True Story सच्ची घटना पर आधारित कहानी और Mahadev Status | Jai Mahakal Status.

Mahakal Bhakt की सच्ची घटना पर आधारित कहानी और Mahadev Status, Jai Mahakal Status.

नमस्कार दोस्तों मेरा नाम है विकास और आज मैं आप लोगों के लिए इस पोस्ट में कालों के काल महाकाल, भोलेनाथ का Mahakal Bhakt True Story,  Mahadev Status, Mahakal Status, Jai Mahakal Status, Bholenath Images, Mahakal Shayari, Mahakal Attitude Status, और कहानी लेकर आया हूं जो कि सच्ची घटना पर आधारित है ,

यह कहानी एक सच्चे शिवभक्त की है जो इतिहास के पन्नों पर एक चमत्कारी और चौका देने वाली घटना को हमेशा के लिए दर्ज कर दिया | यह एक ऐसी घटना है जो कि ब्रह्म पुराण से ली गई है, और जिससे आपको मालूम पड़ेगा कि प्रभु की भक्ति में कितनी शक्ति है जैसा कि हम जानते हैं कि जो  ईश्वर का भक्त होता है उसके स्वामी सिर्फ और सिर्फ ईश्वर होते हैं और किसी का भी उस पर कोई अधिकार नहीं होता है यहां तक कि मृत्यु का भी अधिकार नहीं होता है और अगर अनाधिकार मृत्यु द्वारा कोशिश की जाए तो उसकी मृत्यु हो सकती है तो आइए पढ़ते हैं क्या कहानी है उस परम शिव भक्त की ......

Mahakal-Bhakt-True-Story


एक समय की बात है , जब गोदावरी नदी  के किनारे पर एक ब्राह्मण रहता था जिसका नाम श्वेत था श्वेत भगवान शिव की भक्ति में हमेशा लीन रहता था, यहां तक कि वह हर व्यक्ति में और अतिथि में भी शिव को देखा करता था और सभी का भली-भांति आदर सत्कार किया और खाली समय में शिव भक्ति में लीन रहता था ऐसा करते करते  एक दिन उसकी उम्र पूरी हो गई लेकिन उसे इस बात का तनिक भी पता ना चला क्योंकि भगवान शिव की कृपा से उसे ना तो कोई रोग  था और ना कोई शोक था  उसका पूरा ध्यान तो केवल भगवान शिव की भक्ति में ही लगा रहता था ऐसे में जैसे ही उसकी आयु पूरी हुई तो यमदूत उसके प्राण करने के लिए आए परंतु इसके घर में प्रवेश न कर सके ऐसे में जब चित्रगुप्त ने मृत्यु देव से पूछा कि श्वेत अभी तक यहां पहुंचा क्यों नहीं   और ना ही तुम्हारे दूत  यहां अभी तक आए ऐसा सुनकर ,


Mahakal-Bhakt-True-Story

मृत्यु देव पर बड़ा क्रोध आया और वे उसे लेने के लिए स्वयं दौर के गए जब मृत्यु देव श्वेत के सामने पहुंचे तब उन्होंने देखा कि उनके दूत उनके घर के बाहर खड़े हैं और डर के मारे कहां पर हैं मृत्यु देव के पूछने पर दूतों ने बताया की श्वेत भगवान शिव के द्वारा सुरक्षित हैं और उनके घर में घुसना तो दूर की बात है उन्हें देख भी नहीं पा रहे हैं इतना सुनकर यमदूत का क्रोध और भी बढ़ गया और उन्होंने बिना कुछ सोचे समझे श्वेत के घर में प्रवेश कर गए ब्राह्मण को तो पता ही नहीं था यहां क्या हो रहा है मृत्यु श्वेत को सामने देख जैसे ही आगे तो बढ़े  वहां उपस्थित भैरव बाबा हमारे भगवान महाकाल ने फौरन उसको जाने को कहा यमदूत ने महादेव जी की बात नहीं मानी और जैसे ही श्वेत के गले में फंदा डाला भैरव बाबा ने अपने डंडे से प्रहार किया जिससे मौत की भी मौत की हो गई | यह देख यमदूत भागकर यमराज के पास पहुंचे और सारी कहानी बताई जैसे ही यह बात यमदेव को पता चला कि मौत (यानी यमदूत) की भी मौत हो गई तू वह खुद अपने हाथ में यमदंड लेकर अपनी सेना के साथ श्वेत के घर की ओर निकल पड़े यमदेव ने देखा कि वहां भगवान शिव के पार्षद तो पहले से ही मौजूद थे ऐसे में ना यमदेव पीछे हटने को तैयार थे और ना ही भगवान भोलेनाथ,

Mahakal-Bhakt-True-Story

शिव महाकाल और ना ही भगवान शिव के गण इस प्रकार युद्ध के दौरान सेनापति कार्तिकेय के शक्ति शस्त्र से पूरी सेना सहित यमदेव की भी मृत्यु हो गई यमदेव की मृत्यु का समाचार सुनते ही सूर्यदेव सारे देवताओं के साथ भगवान ब्रह्मा जी के पास पहुंचे और उसके बाद भगवान ब्रह्मा जी सारे देवताओं के साथ घटनास्थल पर पहुंच गए फिर सभी देवी देवता भगवान महादेव भोलेनाथ शिव की स्तुति करने लगे और उनसे कहने लगे कि हे प्रभु यमराज सूर्य देव के पुत्र हैं यह लोकपाल है उनकी मृत्यु से अव्यवस्था फैल जाएगी कृपया इन्हें जीवित कर दीजिए आप से की हुई प्रार्थना कभी भी व्यर्थ नहीं जाती कालों के काल महाकाल जी ने



Mahakal-Bhakt-True-Story

देवताओं से कहा मैं भी व्यवस्था के पक्ष में हूं वेद की एक व्यवस्था है कि जो मेरे या भगवान विष्णु के भक्त हैं उनके स्वामी स्वयं हम लोग ही होते हैं मृत्यु का उन पर कोई अधिकार नहीं होता बल्कि यह यमराज के लिए व्यवस्था की गई है भक्तों को अनु चोरों के साथ प्रणाम करें अंत में देवताओं की प्रार्थना करने पर भगवान शिव ने गोतनी यानी कि गोदावरी नदी का का जल सभी मृत लोगों पर फेंक दिया जिससे जिससे सभी लोग जीवित हो गए और वह सब के सब स्वस्थ होकर उठ खड़े हुए और भगवान शिव भोलेनाथ महाकाल भोले बाबा महादेव क्षमा मांगे तो मेरे प्यारे दोस्तों भाइयों बहनों यह कहानी वास्तविक घटना पर थी, अगर आप इस कहानी का वीडियो देखना चाहते हैं तो नीचे दिए गए वीडियो पर क्लिक कीजिए और एक झलक इस वीडियो को भी देख लीजिए


कहानी पढ़कर आपको कैसा लगा नीचे कमेंट में मैसेज करें धन्यवाद आपका प्यारा भाई विकास इतना ही नहीं मैंने आप लोगों के लिए और भी हमारे भगवान महादेव जिनके नाम अनंत हैं जैसे कि  इनके अनंत नाम है तो चलिए पढ़ते हैं  Mahakal Bhakt True Story,  Mahadev Status, Mahakal Status, Jai Mahakal Status, Bholenath Images, Mahakal Shayari, Mahakal Attitude Status,   इत्यादि इस पोस्ट में उपलब्ध है |




तन की जाने, मन की जाने, जाने चित की चोरी उस महाकाल से क्या छिपावे जिसके हाथ है सब की डोरी  जय श्री महाकाल 



काल का भी उस पर क्या आघात हो जिस बंदे पर महाकाल का हाथ हो.



मेरे महाकाल कहते हैं कि मत सोच तेरा सपना पूरा होगा या नहीं होगा…क्योंकि जिसके कर्म अच्छे होते हैं उनकी तो मैं भी मदद करता हूँ…


शिव की बनी रहे आप पर छाया,पलट दे जो आपकी किस्मत की काया;मिले आपको वो सब अपनी ज़िन्दगी में,जो कभी किसी ने भी न पाया! 


दुश्मन बनकर मुझसे जीतने चला था नादानमेरे MAHAKAL से मोहब्बत कर लेता तो मै खुद हार जाताजय महाकाल


जिनके रोम-रोम में शिव हैं वही विष पिया करते हैं ,जमाना उन्हें क्या जलाएगा , जो श्रृंगार ही अंगार से किया करते हैं….जय भोलेनाथ. 



खुशबु 😴आ रही है कहीँ से #गांजे और #भांग की !!! 🍯शायद #खिड़की🚪 खुली रह गयी है ' #मेरे_महांकाल' के #दरबार की...!!हर_हर_महादेव '...😊


खुशबु 😴आ रही है कहीँ से #गांजे और #भांग की !!! 🍯शायद #खिड़की🚪 खुली रह गयी है ' #मेरे_महांकाल' के #दरबार की...!!हर_हर_महादेव '...😊





खुल चूका है नेत्र तीसरा शिव शम्भू त्रिकाल का,,,इस कलयुग में वो ही बचेगा जो भक्त होगा महाकाल का !


कृपा जिनकी मेरे ऊपर तेवर भी उन्हीं का वरदान हैशान से जीना सिखाया जिसने “महाँकाल” उनका नाम है!



महाकाल तेरी कृपा रही तो एक दिन अपना भी मुकाम होगा !!70 लाख की Audi कार होगी और FRONT शीशे पे महाकाल तेरा नाम होगा.


ऐ जन्नत अपनी औकात में रहना हम तेरी जन्नत के मोहताज नही....*हम गुरू भोलेनाथ के चरणों के वासी है वहाँ तेरी भी कोई औकात नही...* *​#___जय_महाकाल___​*



मैनें तेरा नाम लेके ही सारे काम किये है महादेवऔर लोग समजतें है की बन्दा किस्मत वाला है 



 मैंने कहा : अपराधी हूं मैं,👉🏾महाकाल ने कहा : “क्षमा कर दूँगा”👤मैंने कहा : परेशान हूँ मैं,👉🏾महाकाल ने कहा : “संभाल लूँगा”👤मैने कहा : अकेला हूँ मैं👉🏾महाकाल ने कहा : ‘साथ हूँ मैं”👤और मैंने कहा :“आज बहुत उदास हूँ मैं”👉🏾महाकाल ने कहा :“नजर उठा के तो देख,तेरे आस पास हूँ मैं…!”