Thursday, June 4, 2020

Romantic Shayari Tera Intezaar Mujhe Har Pal Rehta Hai

Romantic Shayari - Tera Intezaar

Romantic Shayari Tera Intezaar Mujhe Har Pal Rehta Hai


Tera Intezaar Mujhe Har Pal Rehta Hai,
Har Lamha Mujhe Tera Ehsaas Rehta Hai,
Tujh Bin Dhadkane Rukk Si Jaati Hai,
Ki Tu Mere Dil Me Meri Dhadkan Banke Rehta Hai.

Romantic Shayari Tera Intezaar Mujhe Har Pal Rehta Hai

तराशा है उनको बड़ी फुर्सत से,
जुल्फे जो उनकी बादल की याद दिला दे,
नज़र भर देख ले जो वोह किसी को,
नेकदिल इंसान की भी नियत बिगड़ जाए.

तू मेरी धड़कन,
मैं तेरी रूह,
तू अगर हैं,
तो मैं हूँ|

❤❤❤❤🌷☘💐💗
सिर्फ इशारों में होती महोब्बत अगर,
इन अलफाजों को खुबसूरती कौन देता?
बस पत्थर बन के रह जाता ‘ताज महल’
अगर इश्क इसे अपनी पहचान ना देता..
❤❤❤❤🌷☘💐💗

💎💙💎💙🌹🌹🌹
अंदाज-ऐ-प्यार तुम्हारी एक अदा है..
दूर हो हमसे तुम्हारी खता है..
दिल में बसी है एक प्यारी सी तस्वीर तुम्हारी..
जिस के नीचे ‘आई मिस यू’ लिखा है..
💎💙💎💙🌹🌹🌹


Chhupa Leta Tujhe Is Tarah Se Meri Baahon Mein,
Hawa Bhi Guzrjane Ke Liye Izazat Maange,
Ho Jaaye Tere Ishq Mein Madhosh Is Tarah Ki,
Hosh Bhi Wapas Aane Ki Izaazat Maange.

Mujhko phir wahi suhana nazara mil gaya,
Nazron ko jo deedar tumhara mil gaya,
Aur kisi cheez ki tamanna kyun karu,
Jab mujhe teri baahon me sahara mil gaya.

💎💙💎💙🌹🌹🌹
Apni nigahon se na dekh khudko
Heera bhi tujhe patthar lagega,
Sab kehte honge chand ka tukda hai tu,
Meri nazar se dekh chand tera tukda lagega.
💎💙💎💙🌹🌹🌹

😀😀😀😀😀😀😀
Hasrat hain sirf tumhe paane ki,
Aur koi khawahish nahi is deewane ki,
Shikwa mujhe tumse nahi khuda se hai,
Kya zarurat thi tumhe itna khubsurat banaane ki.
😀😀😀😀😀😀😀

❤❤❤❤🌷☘💐💗
आप खुद नहीं जानती आप कितनी प्यारी हो,
जान हो हमारी पर जान से प्यारी हो,
दूरियों क होने से कोई फर्क नही पड़ता
आप कल भी हमारी थी और आज बी हमारी हो..
❤❤❤❤🌷☘💐💗

❤❤❤❤🌷☘💐💗
Ek tu teri aawaz yaad aayegi,
Teri kahi huwi har baat yaad aayegi,
Din dhal jayega raat yaad aayegi,
Har lamha pahli mulakat yaad aayegi.
❤❤❤❤🌷☘💐💗

Tujse hi har subha ho meri,
Tujse hi har sham,
Kuch aisa rishta ban gaya tujhse,
Ki Har saaso mein sirf tera hi naam.

❤❤❤❤🌷☘💐💗
बड़ा मज़ा आता है उसे बार-बार मुझे सताने में,
क्यो भूल जाती है कि नहीं मिलेगा,
कोई मुझसा चाहने वाला इस जमाने में,
नहीं आए यकीं तो फिर आज़माकर देख लेना
कुछ बात अलग है इस दीवाने में,
तारीफ नहीं करता खुद की... मगर ये सच है...
कोई कसर नहीं छोडूंगा तेरा साथ निभाने में।
❤❤❤❤🌷☘💐💗

जो मैं वक़्त बन जाऊं तू बन जाना लम्हा,
मैं तुझमें गुजर जाऊं तू मुझमें गुजर जाये।
❤❤❤❤🌷☘💐💗

तुम्हारी ज़ुल्फ़ों के साये में शाम कर लूंगा,
सफर इस उम्र का पल में तमाम कर लूंगा।
😀😀😀😀😀😀😀


आपसे रोज़ मिलने को दिल चाहता है​​,​
​कुछ सुनने सुनाने को दिल चाहता है​​,​
​था आपके मनाने का अंदाज़ ऐसा​​,​
​कि फिर रूठ जाने को दिल चाहता है​।